Rudraksha Lovers
Home » Shri Shani Aarti in Hindi | शनि आरती
Aarti Shani

Shri Shani Aarti in Hindi | शनि आरती

॥ शनिदेव की आरती ॥


जय जय श्री शनिदेवभक्तन हितकारी।

सूरज के पुत्र प्रभुछाया महतारी॥

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

 

श्याम अंग वक्र-दृ‍ष्टिचतुर्भुजा धारी।

निलाम्बर धार नाथगज की असवारी॥

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

 

क्रीट मुकुट शीश सहजदिपत है लिलारी।

मुक्तन की माल गलेशोभित बलिहारी॥

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

 

मोदक और मिष्ठान चढ़े,चढ़ती पान सुपारी।

लोहा, तिल, तेल, उड़दमहिषी है अति प्यारी॥

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

 

देव दनुज ऋषि मुनिसुमिरत नर नारी।

विश्वनाथ धरत ध्यान हमहैं शरण तुम्हारी॥

 

जय जय श्री शनिदेव भक्तन हितकारी॥

Related posts

श्री हनुमान की आरती | Hanuman Aarti

श्री चित्रगुप्त आरती | Shri Chitragupt Aarti

श्री पुरुषोत्तम देव की आरती | Shri Purushottam Dev Aarti

Leave a Comment

Call To Consult